आंवले कि सब्जी

( यह सब्जी किसी भी मौसम में बनाई जा सकते है, गर्मी और बरसात में जब सब्जियां कम व महंगी हो जाया करती है, बहुधा गांवो में तभी इसका प्रयोग होता है। )

सामग्री : सूख आंवले का चूरन 75 ग्राम, बेसन 250 ग्राम, थोड़ा सा जीरा ( अंदाज से नमक ), मसाला वही जो बहुआ सब्जियों में लगता है, प्याज, लहसुन, धनिया , मिर्च, हल्दी, नमक स्वादानुसार, थोड़ा गरम मसाला, तेल ( सरसो ) 

विधि : सबसे पहले आंवले के चूरन व बेसन को छानकर उसमें नमक व थोड़े से जीरे मिलाकर पानी से सान लें, फिर इसकी ढाई या तीन रोटियों जितनी बड़ी लोइया बना लें, इन लोइयों को किसी थाली में हाथ से लंबा कर लें, अब इन लंबे टुकड़ो को कड़ाही में तेल डालकर सेंक लें, एक बार सिक जाने पर इन टुकड़े को निकालकर रख लें। अब कड़ाही में जरूरत लायक तेल बचाकर बाकी निकाल लें, फिर जीरा, गरम मसाले का छौंका लगाकर पहले से पिसा रखा मसाला भुंज लें, पहले प्याज, लहसुन भुंज लें फिर धनिया, मिर्च, मसाला अच्छा भुंज जाने पर उसमें तलकर रखे बेसन के टुकड़े भी भुंज लें, फिर उसमें पानी डाल दें अथवा मसले में पानी डालकर उबाल आ जानें पर फिर रखे टुकड़े उसमें डालकर थोड़ा उबलने दें, फिर उतारकर धनियापत्ती डालकर परोसें, यह सब्जी भी स्वाद में अनोखी जायकेदार व गुणकरी होती है।  

महुआ की सब्जी

( महुआ की सब्जी गर्मी के मौसम में बनाई जाती है, जब कच्चे हरे आम मिलते लगते है यह सब्जी शुध्द घी में ही बनती है और सुखी बनती है।)

सामग्री : 1 कि.ग्रा. महुआ 1/2 कि.ग्रा. आम किसे या कटे हुए, 1 कि.ग्रा. प्याज, घी इच्छानुसार 

विधि :सर्वप्रथम महुआ को धोकर उबाल लें फिर दो तीन बार साफ पानी में मसलकर धो डाले ताकि महुए के अंदर कि सफाई हो जावे फिर पानी से निचोड़ कर निकाल लें।एक कड़ाही में घी डालकर महुआ, प्याज व कटे हुए आम अलग-अलग घी में सेंक कर रख लें फिर कड़ाही में घी डालकर जीरा व तेजपत्ता का छौंक लगाकर मसाला भूँज लें। मसाला भुंज जाने पर पहले से भुंजकर रखे हुए महुआ आम व प्याज भी मसाले में डालकर अच्छे से मिलाकर धीमी आंच में थोड़ी देर रहने दें फिर उतार लें। महुआ कि सब्जी परोसने के लिए तैयार है। 

झरिया की कढ़ी ( झर कढ़ी )

सामग्री : बेसन 200 ग्राम, मठा 2 गिलास, हिंग, मैथी, धनिया हल्दी, मिर्च, नमक स्वादानुसार। 

विधि : सर्वप्रथम एक पतीली में पानी गर्म होने के लिए रख दें। बेसन में नमक मिर्च हल्दी डालकर घोल के सेव गेसे छोटे फिर उन सेव को निकाल लें। तैयार सेव के 3 भाग मठा में घोल लें, इस घोल को हींग, मैथी से छौंके, घोल में सुखी धनिया लाल मिर्च नमक और हल्दी डालें शेष बचे चौथाई भाग सेव को कढ़ी उतारते समय डालें। इसको चावल, रोटी के साथ सब्जी की तरह खाते है ।

कुदवा का घोरूआ

सामग्री: कुदवा का आटा 200 ग्राम, मठा 2 गिलास, सिमाइया/चावल 50 ग्राम नमक स्वादानुसार

विधि : कुदवा का आटा मठा में घोलकर बिना तेल की कड़ाही में डाल दें फिर नमक डालकर उसमें सिमइया या चावल में से कोई एक चीज डाल दें थोड़ा गाढ़ा हो      जाये तो आंच से उतार लें।

बटौनीय ( करारी कढ़ी )

सामग्री : मूंग की दाल, मठा, हरी मिर्च, हींग, मैथी, धनिया, लाल मिर्च, हल्दी, तेल नमक स्वादानुसार

विधि : मूंग की दाल को रात में भिगो दें सुबह पीसकर आधी दाल में हरी मिर्च और नमक डालकर कड़ाही मे तेल डालकर पकौड़ी बना लें। शेष आधी दाल को मठा में घोल लें उसमें नमक धनिया, मिर्च व हल्दी डाल लें । कड़ाही में थोड़ा सा तेल डालकर उसमे हींग और मैथी से घोल को छौंक दें और उसे लगातार हिलाते रहें आंच में उतारने से पूर्ण तैयार को हुई मूंग की दाल की पकौड़ी डाले। करारी कढ़ी तैयार है।

श्री कंचन ( भुंजा )

सामग्री : 

भुने चना 250 ग्राम,भुने महुआ 50 ग्राम, जीरे छौंकने के लिए, तेल, नमक स्वादानुसार 

विधि : भुने चने के आटा को पानी में घोलकर कड़ाही में थोड़ा सा तेल डालकर जीरे से छोंककर थोड़ी देर तक चलायें फिर उसमें भुने महुआ या सिमइया या चावल दाल दें जब महुआ पक जायें तो नमक मिर्च धनिया डाल दें और उतार ले श्री कंचन तैयार है।

बिड़ई

सामग्री : हरे चना ( बुंट ) 200 ग्राम, आटा 400 ग्राम, नमक स्वादानुसार, हरी धनिया, हरी मिर्च, सुखी धनिया, लाल मिर्च 

विधि : हरे चने को महीन पीस लें आटा में पूरे मसाले डालकर आटा गूंथ लें हरे चने का पेस्ट अलग रख लें। आटे की दो टिकिया बनाकर बीच में चने का पेस्ट भरकर रोटी को तरह बेलकर सेकें। सब्जी या लप्सी के साथ चाव से खायें।

बिजौरे

सामग्री : उड़द की दाल, सफेद कद्दू, तिली, नमक, मिर्च, तेल तलने के लिये।

विधि :  उड़द की दाल को फूलाकर धोया जिससे छिलके हट जायें फिर पीस लिया, सफेद कद्दू को किसकर पिसी हुई दाल में मिलाकर फेंट लिया बाद में डालकर इतनी देर तक फेंटी की यदि मिश्नण को पानी में डालकर देखें तो ऊपर उतराने लगे बाद में नमक एवं मिर्च मिलाकर छोटी-छोटी पुड़ियों के आकार मेंबना लिया। धूप में सुखाने के बाद लड़ाही में तेल डालकर तल लिया। बिजौरे तैयार है। 

मीठे चीला ( गेंहू के आटा के )

सामग्री : आटा 200 ग्राम, गुड़ 200 ग्राम, सौठ, गरी बुरादा, तेल।

विधि : गुड़ का घोल बनाकर उसमें आटा डालकर पतला घोल तैयार कर लें। घोल में सोठ और गरी बुरादा मिला लें तवे पर तेल चुपड़ कर एक बड़े – चम्मच से घोल डालकर तवे पर फैलाये और पलट कर दूसरी ओर सेंके चीला तैयार है।